sulabh swatchh bharat

मंगलवार, 25 जून 2019

Tender-for-Toilets-Cleaning

शौचालयों की सफाई का टेंडर

111 सप्ताह पहले
हिसार के बदहाल शौचालयों की हालत सुधारने के लिए नगर निगम ने अब इनकी सफाई व्यवस्था निजी हाथों में देने का फैसला लिया है। इसके लिए टेंडर की शर्तें तैयार कर ली हैं। शीघ्र ही इसके लिए टेंडर मांगे जाएंगे। इसके तहत करीब 35 शौचालय यूरिनल की सफाई व्यवस्था ठेके पर दी जाएगी। ठेके की शर्त के मुताबिक यदि निरीक्षण के दौरान शौचालय में गंदगी मिली तो ठेकेदार पर प्रति प्वाइंट प्रति निरीक्षण 500 रुपये जुर्माना किया जाएगा। शौचालयों की दीवारों पर बैनर या पोस्टर लगे मिले तो छह घंटे में उतारना होगा, यदि वह ऐसा नहीं करता तो प्रति प्वाइंट 200 रुपये जुर्माना किया जाएगा। शहर के कई शौचालय यूरिनल के रखरखाव के कार्य को ठेके पर देने पर विचार-विमर्श कर ...
Bride-Makeup-is-Incomplete-without-Toilets

‘बिन शौचालय दुल्हन का श्रृंगार अधूरा होता है’

111 सप्ताह पहले
आर्थिक रूप से हाशिये पर खड़े लोगों के बीच काम करते-करते युवा अभियंता वरुण कुमार की मानसिकता कुछ ऐसी बदली कि ‘बहुजन हिताय, बहुजन सुखाय’ को आत्मसात करते हुए पहले तो उन्होंने निरक्षरों के लिए आयोजित होने वाली शाम की पाठशाला से खुद को जोड़ा और अब एक अनोखी पहल करते हुए वरुण ने अपनी होने वाली शादी के कार्ड पर बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ के साथ-साथ घर में शौचालय के प्रति जागरुकता का संदेश देने की कोशिश की है। 08 मई को वरुण की शादी होने वाली है और उन्होंने अपने शादी कार्ड के कवर पर दो पंक्तियां छपवायी हैं। इसमें पहली पंक्ति में ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ लिखा है तो दूसरी पंक्ति में लिखा है, ‘बिन शौचालय दुल्हन का शृं...
Marriage-begins-with-Shramdan

श्रमदान से की वैवाहिक जीवन की शुरुआत

111 सप्ताह पहले
महाराष्ट्र के अनभुलेवाडी गांव की एक नवविवाहित जोड़ी ने अपने वैवाहिक जीवन की शुरुआत बिलकुल नए अंदाज में की। उन्होंने शादी के दिन ही शादी की वेशभूषा में ग्रामवासियों की मौजूदगी में श्रमदान कर अनोखा उदाहरण पेश किया। यह उन लोगों के लिए एक सबक भी है जो गांव की समस्याओं के प्रति या तो जागरूक नहीं है  या फिर जान-बूझकर अनदेखी कर रहे हैं। अनभुलेवाडी गांव माण तहसील के अंतर्गत आता है, जो सतारा जिले में है। तीन सौ दस घरों वाले इस गांव की आबादी लगभग पंद्रह सौ है। पश्चिम महाराष्ट्र का यह गांव खेती पर निर्भर है और पानी की किल्लत से हमेशा जूझता रहता है। इसी गांव का है दत्तात्रय येले, जिसकी शादी 20 अप्रैल को लक्ष्मीनगर की मनीषा किसवे के...
Usefulness-of-Toilet-and-Construction

शौचालय की उपयोगिता और निर्माण हो सुनिश्चित

111 सप्ताह पहले
खूंटी के खलारी को स्वच्छ  भारत मिशन के तहत प्रखंड क्षेत्र में शौचालय निर्माण का जो लक्ष्य मिला है, उसे तो पूरा करना ही है। इससे भी ज्यादा इन शौचालयों की उपयोगिता सुनिश्चित करना जरूरी है। यह बात बीडीओ रोहित सिंह ने शौचालय निर्माण के रिव्यू मीटिंग के दौरान मुखिया और जलसहिया से कही। मीटिंग में स्वच्छता समन्वयक विक्रम भगत के अलावा ब्लॉक कोऑर्डिनेटर, मुखिया और  जलसहिया उपस्थित थे। बैठक में जलसहिया और मुखिया ने बताया कि गरमी के कारण पानी की कमी हुई है, जो शौचालय  निर्माण में बाधक है।  बीडीओ ने  बताया कि सोख्ता का गड्ढा लाभुक को स्वयं करना है। साथ ही निर्माण के लिए पानी भी उपलब्ध कराना है। समीक्षा के बाद बीडीओ ...
People-do-Fast-for-Toilets

शौचालय के लिए उपवास

111 सप्ताह पहले
कर्नाटक के गुलबर्गा जिले की सेदम तहसील की पंचायत रिब्बानापल्ली के गांव खंदेरयनपल्ली के निवासी मल्लेश की बिटिया कुमारी माधवी कक्षा दसवीं की छात्रा है। माधवी में ऐसा खास कुछ नहीं है जो दूसरी छात्राओं में नहीं है। लेकिन एक बात जो माधवी को सबसे खास बनाती है, वह है स्वच्छता की जिद। माधवी ने जिद ठानी तो उसके लिए कठिन परीक्षा देनी पड़ी तो भी देखी और जीत आखिरकार उसकी ही हुई। हुआ कुछ ऐसा कि माधवी के स्कूल में जिला पंचायत की तरफ से केंद्र सरकार के कार्यक्रम स्वच्छ भारत मिशन के जनजागरण हेतु एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया जिसमें स्कूली बच्चों ने बड़ी उत्सुकता से भाग लिया। माधवी भी इस कार्यक्रम में प्रतिभागी रही। अपने आस-पास की साफ सफाई,...
Women-Making-Toilets-Breaking-Kitchen-in-Bihar

रसोईघर तोड़ शौचालय बनवा रही महिलाएं

111 सप्ताह पहले
बिहार में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सात निश्चय योजनाओं में एक है- सभी के लिए शौचालय। इसके तहत चलाए जा रहे जागरुकता अभियान का असर अब दिखने लगा है। सीतामढ़ी जिले के चोरौत उत्तरी पंचायत में कई महिलाओं ने जिद कर रसोईघर व कमरे तुड़वा दिए और शौचालय की नींव रख दी। सीतामढ़ी के वार्ड संख्या  सात में हरि मंडल के घर में दो कमरे और रसोईघर थे। ईंट से निर्मित 15 इंच की मोटी दीवार के ऊपर खपरैल था। शौचालय की कमी अरसे से खल रही थी। पत्नी रेखा देवी को यह जानकारी मिली कि शौचालय निर्माण कराने पर सरकार की ओर से 12 हजार रुपए की सहायता मिल रही है। फिर क्या था, उन्होंने शौचालय बनवाने की जिद ठान ली। पति ने जगह की कमी का रोना रोया तो वह र...
NDMC-Starts-to-Special-Programmes-for-Cleaning-in-Delhi

विशेष स्वच्छता अभियान

111 सप्ताह पहले
नई दिल्ली: उत्तर दिल्ली नगर निगम ने दो महीने का विशेष स्वच्छता अभियान शुरू किया। उत्तर दिल्ली नगर आयुक्त प्रवीण गुप्ता ने बताया कि यह अभियान आगामी मानसून तथा स्वच्छ भारत मिशन के तहत प्रयासों को गति देने के लिए शुरू किया गया। एनडीएमसी ने बताया कि यह अभियान निगमों के सभी विभागों, गैर सरकारी संगठनों, रेजीडेंट वेलफेयर एसोसिएशनों, बाजार एसोसिएशनों और अन्य पक्षों के सहयोग से चलाया जाएगा।
Special-Programmes-to-Clean-Publics-Toilet-in-Delhi

सार्वजनिक मूत्रालयों की सफाई

111 सप्ताह पहले
नई दिल्लीः दक्षिणी नगर निगम ने अपने मूत्रालयों के गंदा रहने की धारणा में परिवर्तन लाकर लोगों को इनके इस्तेमाल के लिए प्रेरित करने हेतु कई कदम उठाने का फैसला किया है। निगम का मानना है कि निगम के बदबूदार मूत्रालयों का उपयोग नहीं करते खुले में पेशाब करने की कोशिश को रोकने के लिए यह कदम उठाया गया है।  विशेष सफाई का उद्देश्य गंदे और बदबू भरे मूत्रालयों से होने वाली बीमारियों की आशंका दूर करना भी है। आयुक्त डा पुनीत कुमार गोयल ने बुधवार को बताया कि निगम के तय मानदंड के मुताबिक मूत्रालयों की सफाई बनाए रखने हेतु पश्चिमी और दक्षिण जोन के मूत्रालयों में स...
Foreners-Clean-Vasai-Beach-in-Mumbai

वसई बीच को साफ करती है विदेशी महिला

112 सप्ताह पहले
वसई में रहने वाली हंगरी की एक सुसैना महिला ने वसई बीच को सुंदर और स्वच्छ बनाने की चुनौती ली है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वच्छ भारत अभियान को सफल बनाने के लिए हर संभव कोशिश कर रहे हैं, लेकिन समुद्र किनारे की गंदगी मुंबई के लिए आम है। यही बात हंगरी की सुसैना को पसंद नहीं। चार हफ्ते पहले जब सुसैना ने वसई के पास रनगांव बीच की खराब हालत और बच्चों को कूड़े में खेलते देखा तो उन्होंने हर रविवार वहां से कूड़ा साफ करने की ठानी। इस काम में उनके पति लिसबन, तीन साल का बेटा और 19 महीने की बेटी भी उनकी मदद करते हैं। सुसैना के पति भारतीय मूल के हैं। सुसैना कहती हैं, 'हम हफ्ते में एक बार कूड़ा उठाते हैं और उम्मीद करते हैं कि दूसरे ...
Free-Toiletries-for-Womens-in-Hotels

होटलों में महिलाओं के लिए मुफ्त प्रसाधन

112 सप्ताह पहले
नई दिल्लीः दक्षिणी नगर निगम में सोमवार से पांच सितारा होटलों सहित सभी होटलों और रेस्टोरेंट में महिलाओं और बच्चों के लिए निशुल्क प्रसाधन का इस्तेमाल शुरू कर दिया गया है। इस बड़ी योजना के लिए उपराज्यपाल ने फरवरी महीने में सलाह दी थी। उपराज्यपाल  की सलाह पर निगम आयुक्त डाक्टर पुनीत कुमार गोयल ने पहल की और फिर होटलों और रेस्टोंरेंट मालिकों के साथ बैठक कर यह सुनिश्चित किया। मार्केट में महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए यह अनूठा कदम उठाने वाला दिल्ली ही नहीं बल्कि निगम का मानना है कि संभवत: उत्तरी भारत में यह पहला स्थानीय निकाय बन गया है जहां इस प्रकार की मुफ्त सुविधा सोमवार से मिलने लगेगी। 
Clean-Toilets-in-Schools-of-Jharkhand

स्कूलों में स्वच्छ शौचालय की कवायद

112 सप्ताह पहले
झारखंड के साहिबगंज जिले के सरकारी स्कूलों में बने शौचालय को स्वच्छ बनाने की कवायद शुरू हो गई है। इसी क्रम में विभाग ने शौचालय की साफ-सफाई के लिए जिले के 102 स्कूलों को रनिंग वाटर के लिए 35,88,000 रुपए उपलब्ध करा दिए हैं। इसमें प्रति स्कूल 34,500 रुपए की राशि शामिल है। उक्त राशि से स्कूलों में पहले से उपलब्ध बोरिंग या कुएं में मोटरपंप, पाइपलाइन व टंकी की व्यवस्था करनी है। राशि उपलब्ध कराने में ऐसे स्कूलों को प्राथमिकता दी गई है, जहां प्रीफैब शौचालय लगे हैं। जिले में फिलहाल प्रीफैब शौचालय वाले स्कूलों की संख्या 48 है। जिले के ज्यादातर स्कूलों में बने शौचालय...
Make-Toilets-in-Industrial-Area-of-Bihar

व्यावसायिक क्षेत्रों में बनेंगे शौचालय

112 सप्ताह पहले
बिहार के बिहार शरीफ शहर को खुले में शौच मुक्त करने का मिशन जारी है। इसके लिए क्षेत्र आधारित व्यक्तिगत और सामुदायिक शौचालय बनाए जा रहे है। शहर के व्यावसायिक क्षेत्र में लोगों की सुविधा के लिए नगर निगम के द्वारा शौचालय बनाए जाएंगे। व्यावसायिक क्षेत्र में जगह की तलाश नगर निगम के द्वारा शुरू कर दी गयी है। जगह चयनित होने पर शौचालय बनाया जा सकेगा। शहर में शौचालय नहीं होने से लोगों को काफी परेशानी होती है। हालांकि शहर के 74 स्थानों पर यूरिनल नगर निगम के द्वारा बनाए जा चुके हैं। अब शौचालय बनाए जाने की योजना है। आयुक्त कौशल कुमार ने कहा कि शहर को स्वच्छ रखना सिर्फ नगर निगम की नहीं, लोगों की भी जिम्मेवारी बनती है। लोगों की सुविधा के लिए ह...


Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो