sulabh swatchh bharat

रविवार, 24 जून 2018

मेडिकल एजुकेशन में डिजिटलीकरण

जयपुर। राजस्थान सरकार चिकित्सा शिक्षा में डिजिटलीकरण के माध्यम से बड़ा बदलाव लाने जा रही है। इसके लिए राज्य सरकार ने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी के साथ समझौते पत्र पर हस्ताक्षर किए हैं।

राजस्थान सरकार ने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी और अन्तरा फाउंडेशन के बीच त्रिपक्षीय एमओयू पर हस्ताक्षर किए। एमओयू का उद्देश्य डिजिटल कोर्सई-बुक्स और इन्टरनेट के माध्यम से शोध-पत्रों को साझा करके चिकित्सा शिक्षा एवं प्रशिक्षण की गुणवत्ता में सुधार लाना है। इससे राज्य में चिकित्सकोंनर्सिंग स्टाफ और अन्य चिकित्साकर्मियों की क्षमता संवर्धित हो सकेगी। इसके परिणामस्वरूप राज्य में स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेवाओं की गुणवत्ता में सुधार आएगा। इस त्रिपक्षीय समझौते के तहत राजस्थान में मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य और आपातकालीन चिकित्सा सेवाओं के लिए विशेष प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाकर इन सेवाओं में सुधार लाने पर फोकस रहेगा। राज्य में सबसे पहले झालावाड़ मेडिकल कॉलेज में प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू होंगे। एमओयू के अनुसारस्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी स्थानीय जरूरतों के अनुसार चिकित्सकों एवं अन्य स्वास्थ्यकर्मियों के लिए विशेष पाठ्यक्रम तथा प्रशिक्षण मॉड्यूल तैयार करेगी। साथ हीप्रशिक्षकों को प्रशिक्षण और उपयोगी प्रशिक्षण सामग्री उपलब्ध कराने के लिए स्वयं अपने संसाधन जुटाएगी। अन्तरा फाउंडेशन को राज्य सरकार के चिकित्सा शिक्षा विभाग के साथ मिलकर डाटा संग्रहणप्रशिक्षण कार्यक्रमों का संचालन एवं मूल्यांकन करने के साथ इनके लिए आवश्यक सुझाव देने की जिम्मेदारी दी गई है।

Related Post



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो