sulabh swatchh bharat

बुधवार, 19 सितंबर 2018

दो बूंद जिंदगी की

नई दिल्ली। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आज यहां राष्ट्रपति भवन में पांच वर्ष से कम आयु के बच्चों को पोलियो की दवा पिलाकर पल्स पोलियो कार्यक्रम 2017 की शुरुआत की।

‘पोलियो-मुक्त’ देश के दर्जे को बरकरार रखने के प्रयासों के अंतर्गत शुरू किये गये इस कार्यक्रम के तहत पांच वर्ष से कम आयु के 17 करोड़ बच्चों को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। राष्ट्रीय टीकाकरण दिवस की पूर्व संध्या पर मुखर्जी ने इस देशव्यापी कार्यक्रम की शुरुआत की। कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री जे पी नड्डा और स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल और फग्गन सिंह कुलस्ते भी मौजूद थे। इस अवसर पर केंद्रीय मंत्री नड्डा ने आगाह किया कि पाकिस्तान, अफगानिस्तान और नाइजीरिया जैसे देशों में पोलियो के अब भी मौजूद होने के कारण देश में इस रोग के आयात का खतरा बना हुआ है।

उन्होंने कहा कि कई नये टीकों की शुरुआत के जरिये सरकार ने टीकाकरण कार्यक्रम को अधिक व्यापक और मजबूत बनाया है। नड्डा ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा भारत समेत समूचे दक्षिण-पूर्व एशियाई क्षेत्र को 27 मार्च, 2014 को पोलियो मुक्त घोषित किया जाना सार्वजनिक स्वास्थ्य के क्षेत्र के इतिहास में ‘बड़ी’ उपलब्धि है।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो