sulabh swatchh bharat

शुक्रवार, 14 दिसंबर 2018

रोहतक में कौशल केन्द्र

चंडीगढ़। रोहतक के पोस्ट ग्रेटजुएट इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (पीजीआईएमएस) में डॉक्टरों, नर्सों और अर्धचिकित्सक कर्मियों के लिए राष्ट्रीय आपात जीवन रक्षक पाठ्यक्रम में प्रशिक्षण के लिए एक कौशल केंद्र की स्थापना की जाएगी।

हरियाणा सरकार के एक प्रवक्ता ने बताया कि इस बाबत एक प्रस्ताव को मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने मंजूरी दे दी। उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय का एक दल पहले ही रोहतक के पीजीआईएमएस का दौरा कर चुका है और परियोजना को मंजूरी दे चुका है। केंद्रीय मंत्रालय इस केंद्र को स्थापित करने के लिए 100प्रतिशत अनुदान के तौर पर 2.60 करोड़ का योगदान देगा। उन्होंने कहा कि केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, स्वास्थ्य सेवाओं के महानिदेशालय (आपातकालीन चिकित्सा राहत) और राज्य सरकार की ओर से रोहतक के पीजीआईएमएस के निदेशक जल्द ही एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर करेंगे। प्रवक्ता ने कहा कि केंद्र से आपातकालीन जीवन रक्षक मामलों से निपटने में हरियाणा को प्रशिक्षित डॉक्टरों, नर्सों और अर्धचिकित्सक कर्मियों की सेवाएं लेने में मदद मिलेगी।

 



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो