sulabh swatchh bharat

गुरुवार, 24 मई 2018

टैक्स में राहत

नई दिल्ली। आम आदमी को कर में राहत दी गई है। इस बजट में 2.5 लाख रुपए और 5 लाख रुपए के बीच की आय वाले व्‍यक्तिगत करदाताओं के लिए कराधान की मौजूदा दर को मौजूदा 10 प्रतिशत से घटाकर 5 प्रतिशत कर दिया है।

इसके परिणामस्‍वरूप 5 लाख रुपए से कम आय वाले सभी करदाताओं की कर देनदारी घटकर शून्‍य हो जाएगी या उनकी मौजूदा देनदारी का 50 प्रतिशत रह जाएगी। लाभ की पुनरावृत्ति को रोकने के लिए लाभार्थियों के इस समूह को उपलब्‍ध छूट के मौजूदा लाभ को घटाकर 2500 रुपए किया जा रहा हैजो 3.5 लाख रुपए तक की सालाना आय वाले करदाताओं के लिए ही उपलब्‍ध है। इन दोनों उपायों का संयुक्‍त प्रभाव यह होगा कि प्रति वर्ष 3 लाख रुपए तक की आय वाले व्‍यक्तियों के लिए कर देनदारी शून्‍य होगी और 3 लाख रुपए से लेकर 3.5 लाख रुपए तक की आय वाले व्‍यक्तियों के लिए कर देनदारी मात्र 2500 रुपए होगी। अब 2.5-5 लाख पर 5% टैक्स। 50 लाख से 1 करोड़ तक की वार्षिक आय वालों पर 10% सरचार्ज लगेगा। वरिष्ठ नागरिकों के लिए एलआईसी की नई पेंशन योजना। हर साल 8 साल का अश्योर्ड रिटर्न मिल पाएगा।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो