sulabh swatchh bharat

मंगलवार, 20 नवंबर 2018

बदला गांव का 'गंदा’ नाम

कजन्स के साथ नोंक-झोंक होना कोई बड़ी बात नहीं है, लेकिन हरप्रीत कौर ने इसे एक बड़े बदलाव के लिए इस्तेमाल किया। उसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चि_ी लिखकर अपने गांव का नाम बदलवा दिया।

हरप्रीत बताती हैं,मेरी मौसी का बेटा मुझे और मेरे भाई-बहनों को हमेशा चिढ़ाता था। कहता था, तुम लोग गंदे गांव के हो, गंदे गांव के हो...मुझे बड़ा खराब लगता था। दरअसल हरियाणा के फतेहाबाद में एक गांव का नाम है 'गंदा’। यह गांव रतिया ब्लॉक में है। जगहों के नाम अजीबो-गरीब तो होते हैं, लेकिन यह नाम बताने में तो किसी को भी शर्मिंदगी होगी। हरप्रीत को भी अपने गांव के नाम को लेकर अक्सर दोस्तों और कजन्स के सामने शर्मिंदा होने पड़ता था। हालांकि अब खुशी की बात यह है कि इस गांव का नाम जल्दी ही 'गंदा’ से बदलकर 'अजीत नगर’ हो जाएगा। गुरु गोविंद सिंह के बड़े बेटे का नाम अजीत सिंह था, उन्हीं की याद में गांव को नया नाम मिलेगा। गांव की पंचायत जो पिछले 27 सालों में नहीं कर सकी, वह आठवीं क्लास में पढऩे वाली 14 साल की एक दलित लड़की ने कर दिखाया। हरप्रीत ने जब पीएम मोदी को चि_ी लिखने के बारे में अपने माता-पिता को बताया था तो उसे डांट पड़ी थी। उसके पिता ने कहा था कि वह परिवार के लिए बेवजह की परेशानियां खड़ी न करे। 



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो