sulabh swatchh bharat

बुधवार, 19 सितंबर 2018

अवसाद में मददगार मोबाइल

जब बच्चे मोबाइल गेम खेलते हैं, तो बड़े-बूढ़े उसे फालतू का काम मानते हैं या यह कहें कि पढाई-लिखाई से ध्यान बंटाने वाला मानते हैं।

लेकिन एक अध्ययन में इसके विपरीत इसे उपयोगी बताया गया है। वैज्ञानिकों का कहना है कि यदि मोबाइल आधारित वीडियो गेम के जरिए अवसाद के संकेतों के बजाय इसके निवारण के मुद्दों पर ध्यान केन्द्रित किया जाए, तो ये वीडियो गेम अवसाद के उपचार में मददगार साबित हो सकते हैं। इसके मद्देनजर अनुसंधानकर्ताओं ने जीवन के बाद के चरण में अवसाद के शिकार पाए गए वृद्ध लोगों पर

प्रयोग किया। यहां किसी को मोबाइल या टैबलेट आधारित उपचार प्रौद्योगिकी (ईवीओ) उपलब्ध कराया गया और किसी को व्यक्तिआधारित उपचार तकनीक यानी प्रॉब्लम सॉल्विंग थेरेपी उपलब्ध कराई गई। ईवीओ परियोजना फोन एवं टैबलेट पर चलती है और इसका इस्तेमाल मूलत: मानसिक स्तर पर फोकस सुधारने के लिए किया जाता है। नतीजों में पाया गया कि जिस समूह ने ईवीओ का इस्तेमाल किया था, उनमें व्यवहारात्मक उपचार की तुलना में ध्यान केंद्रित करने जैसे कई विशिष्ट लाभ दिखाई दिए।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो