sulabh swatchh bharat

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2019

कुंभ के लिए 800 विशेष ट्रेनें

कुंभ की तैयारियां अपने चरम पर हैं। रेलवे ने श्रद्धालुओं के लिए विशेष गाड़ियों की व्यवस्था की है

कुंभ स्नान करने वाले श्रद्धालुओं के लिए अच्छी खबर यह है कि इस मेले के लिए युद्धस्तर पर तैयारियां कर रहा रेलवे  800 कुंभ स्पेशल ट्रेन चलाएगा। अधिकारियों ने अनुसार मेला के दौरान उत्तर मध्य रेलवे द्वारा 622, पूर्वोत्तर रेलवे द्वारा 110 व उत्तर रेलवे द्वारा 68 ट्रेनों को चलाने की तैयारी है। मेले के लिए इलाहाबाद, प्रयाग घाट, इलाहाबाद सिटी, नैनी, इलाहाबाद छिवकी और सुबेदारगंज स्टेशनों पर विशेष तैयारियां की जा रही हैं। 
मेले के लिए ये ट्रेनें तीन महीनों तक चलाई जाएंगी, इन विशेष गाड़ियों पर मेले के थीम स्लोगन के साथ तस्वीरें भी लगाई जाएंगी। साथ ही ट्रेन के कोच पर 'कुंभ चलो' नारे के साथ नागा साधुओं की तस्वीरें भी लगाई जाएंगी। वहीं कुंभ के समय प्रयागराज जाने वाली अन्य ट्रेनों में भी अतिरिक्त कोच लगाए जाएंगे। गौरतलब है कि कुंभ मेले के दौरान करोड़ों श्रद्धालु प्रयागराज आते हैं और इस बार भी मेले के तीन महीनों के दौरान करोड़ों लोगों के प्रयागराज पहुंचने की उम्मीद है। मिली जानकारी के अनुसार कुंभ मेले की स्पेशल ट्रेन की सज्जा के लिए नेशनल ट्रांसपोर्ट्स को हायर किया गया है। उन्होंने 1,600 ट्रेन के कोचों पर काम करना शुरू कर दिया है। कुंभ के दौरान ट्रेन व स्टेशन की सफाई का काम भी रेलवे ने आउटसोर्स किया है। 
कुंभ के दौरान इलाहाबाद सिटी स्टेशन से मेला स्पेशल गाड़ियों को प्लेटफार्म नंबर एक से चलाया जाएगा। जबकि नैनी स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर एक से, मुगलसराय प्लेटफार्म नंबर तीन से मानिकपुर साइड के यात्रियों को भेजा जाएगा और मानिकपुर साइड की तरफ से आने वाली स्पेशल गाड़ियों को छिवकी स्टेशन पर ही समाप्त कर दिया जाएगा।
उत्तर प्रदेश सरकार का अनुमान है कि 15 जनवरी (मकर संक्रांति) को 1.2 करोड़, 21 जनवरी (पौष पूर्णिमा) को 55 लाख, 4 फरवरी (मौनी अमावस्या) को 3 करोड़, 10 फरवरी (वसंत पंचमी) को 2 करोड़, 19 फरवरी (माघी पूर्णिमा) को 1.6 करोड़ और 4 मार्च (महाशिवरात्रि) को 60 लाख श्रद्धालु प्रयागराज पहुंचेंगे। इनके ठहरने के लिए इलाहाबाद जंक्शन पर चार आधुनिक आश्रय स्थल, छिवकी में दो व नैनी में तीन आश्रय स्थल का निर्माण कार्य भी तेजी से चल रहा है। 
हिंदुओं के लिए प्रसिद्ध धार्मिक स्थल प्रयागराज में होने वाला कुंभ मेला 15 जनवरी  से शुरू हो रहा है। गंगा, यमुना और सरस्वती नदी के किनारे लगने वाले इस मेले में 12 करोड़ लोगों के पहुंचने का अनुमान है। संगम में डुबकी लगाने देश ही नहीं, बल्कि विदेशों से भी श्रद्धालुओं की भारी भीड़ पहुंचती है।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो