sulabh swatchh bharat

बुधवार, 23 मई 2018

मदरसों में मिड डे मील

नई दिल्ली। उत्तरप्रदेश समेत पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले केंद्र सरकार ने मुख्यधारा की शिक्षा प्रदान करने वाले मदरसों के छात्रों को मध्याह्न भोजन (मिड-डे मील) प्रदान करने का निर्णय किया है।

राज्य अल्पसंख्यक आयोगों के वाषिर्क सम्मेलन के दौरान अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि इस मुद्दे पर उनकी ऐसे मदसरों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक हुई थी और उनसे इस बारे में सुझाव देने को कहा था। नकवी ने कहा कि मौलाना आजाद शिक्षा फाउंडेशन की 29 दिसंबर 2016 को हुई बैठक में इस संबंध में मध्याह्न भोजन प्रदान करने का निर्णय किया गया था। इसके साथ ही ऐसे मदसरों को सहायता अनुदान प्रदान करने का निर्णय किया गया था।

मंत्री ने कहा, ‘ वैसे मदरसे जो विज्ञान, गणित जैसी मुख्यधारा की शिक्षा प्रदान करते हैं, उन्हें हम मदद करेंगे, मध्याह्न भोजन प्रदान करेंगे। हमने एक सप्ताह से भी पहले यह निर्णय किया था।’ उन्होंने कहा कि यह सोचना गलत है कि मदरसा भारत का हिस्सा नहीं है और इस बात पर जोर दिया कि इनमें से अधिकांश अच्छा काम कर रहे हैं।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो