sulabh swatchh bharat

शुक्रवार, 19 अप्रैल 2019

कभी चांद पर रहते थे एलियन!

वैज्ञानिकों का दावा है कि चांद पर करीब चार अरब साल पहले जीवन जीने योग्य माहौल था

क्या चांद पर कभी एलियनों का बसेरा हुआ करता था? वैज्ञानिकों के हालिया दावे को मानें तो ऐसा ही लगता है। उनका कहना है कि संभवतः उल्का पिंडों के ब्लास्ट के कारण एलियनों के रहने के अनुकूल वातावरण पैदा हुआ। जब यह हुआ, तब का वातावरण संभवतः आज की तुलना ज्यादा रहने योग्य रहा होगा। 
ग्रहों पर शोध करने वाले दो वरिष्ठ वैज्ञानिकों के मुताबिक, संभवतः चांद पर चार अरब साल पहले जीवन जीने योग्य माहौल था। शोधकर्ताओं का दावा है कि यह स्थिति संभवतः 3.5 अरब साल पहले ज्वालामुखी विस्फोट के कारण भी पैदा हुई होगी। उस वक्त चांद से बड़ी मात्रा में गर्म गैस रिस रही थी। जिस गैस के कारण सतह पर पानी तैयार हुआ। 
वॉशिंगटन स्टेट यूनिवर्सिटी के एस्ट्रोबायॉलजिस्ट डिर्क शुल्ज-माकुच ने कहा, 'अगर शुरुआती समय में चांद पर लंबे समय के लिए पानी और विशिष्ट वातावरणा था, तो हमें लगता है कि चांद की सतह पर अस्थायी रूप से जीवन जीने योग्य माहौल था।' शुल्ज ने यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन के ग्रह विज्ञान और एस्ट्रोबायोलोजी के प्रोफेसर इयान क्राफॉर्ड के साथ मिलकर यह पेपर तैयार किया है। माना जाता है कि चांद की सतह मैग्नेटिक फील्ड से कवर थी जिसने घातक गर्म हवा से किसी भी प्रकार के जीव की रक्षा की होगी।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो