sulabh swatchh bharat

शुक्रवार, 25 मई 2018

स्मार्ट पुलिस थाना

अमरावती। आंध्र प्रदेश का पहला स्मार्ट पुलिस थाना काम करने को तैयार है। थाने में कॉरपोरेट शैली का कार्यालय, एक ‘हिरासत’ कक्ष और सीसीटीवी नेटवर्क लगा होगा।

मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू राजधानी क्षेत्र अमरावती के गुंटूर शहर के नगरमपलेम में राज्य के पहले स्मार्ट पुलिस थाने का निर्माण किया गया है। यह प्रतिष्ठान अपने शानदार आंतरिक एवं बाहरी डिजाइन के कारण असल में एक पारंपरिक पुलिस थाने जैसा बिल्कुल नहीं दिखता। यहां प्रवेश करने पर कॉरपोरेट शैली के किसी कार्यालय में होने जैसा महसूस होता है। पूरी तरह से वातानुकूलित थाने में एक कर्मचारी कक्षडॉर्मिटरीलघु नियंत्रण कक्षएक स्वागत कक्षथाना प्रभारी और तीन उप निरीक्षकों के अलग अलग कमरे हैं। थाने में तैनात कर्मचारी सामान्य खाकी वर्दी नहीं पहनेंगे बल्कि इसकी जगह गहरे नीले रंग की पैंट और हल्के नीले रंग की कमीज पहनेंगे।
महिला कांस्टेबल हल्के नीले रंग की साड़ी पहनेंगी जबकि महिला रिसेप्शनिस्ट इसके साथ गहरे नीले रंग की ब्लेजर पहनेंगी। प्रतिष्ठान का निर्माण 91 लाख रुपए की लागत से दो महीने में किया गया। यह पायलट परियोजना के तौर पर गुंटूर में निर्मित दो मॉडल स्मार्ट पुलिस थाने में शामिल है। आंध्र प्रदेश प्रशासन के पूरे राज्य में 100 और स्मार्ट पुलिस थानों का निर्माण करने की योजना है। पुलिस महानिदेशक (प्रभारी) नंदूरी संबाशिव राव ने पीटीआई-भाषा से कहा, ‘‘स्मार्ट पुलिस थाने पुलिस का गौरव हैं।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो