sulabh swatchh bharat

रविवार, 23 सितंबर 2018

विकास के रास्ते पर राजस्थान

जयपुर। राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुन्धरा राजे ने कहा है कि राजस्थान विकास की बुलंदियां छू रहा है।

भरतपुर के लोहागढ़ स्टेडियम में विकास परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास करने आई राजे ने कहा कि विकास के लिए तीन वर्ष की अवधि कम होती है, लेकिन हमने प्रदेशवासियों की कसौटी पर खरा उतरने का प्रयास किया है और विकसित प्रदेशों की श्रेणी में आ खड़े हुए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में 23 हजार माइक्रो एटीएम, 40 हजार ई मित्र केन्द्रों आदि के माध्यम से नकदी रहित अर्थव्यवस्था को प्रोत्साहन दिया जा रहा है। 70 विभागों की 270 से अधिक सेवाएं डिजिटल हो गई हैं। उन्होंने कहा कि हाल ही में प्रधानमंत्री ने अजमेर जिले को नकदी रहित लेनदेन को बढ़ावा देने के लिए देश के प्रथम पांच जिलों में शामिल होने पर सम्मानित किया है।

राजे ने खेड़ली से पहाड़ी राजमार्ग के लिए 106 करोड़ रुपये, गोवर्धन तक जाने वाली सड़क के लिए 36 करोड़ रुपये तथा ब्रज चौरासी परिक्रमा मार्ग में सड़क के लिए 200 करोड़ रुपये की योजना की घोषणा की। उन्होंने कहा कि राज्य बजट में परिक्रमा मार्ग के लिए 100 करोड़ रुपये की राशि घोषित की गई थी।

राजे ने कहा कि मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के पहले चरण की सफलता के बाद अब दूसरा चरण भी शुरू कर दिया गया है। अभियान के तहत बनाए गए टैंकों के कारण जिले में कई जगहों पर कुओं का जल स्तर बढ़ा है। उन्होंने कहा कि इस बार शहरी क्षेत्रों को भी इस अभियान में शामिल किया गया है। भरतपुर जिले में दूसरे चरण के दौरान 165 गांवों में 1868 कार्य तथा भरतपुर एवं डीग शहरों में पुरानी बावड़ियों के विकास के 17 कार्य करवाए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमने तीन वर्ष में प्रदेश के 11 लाख 75 हजार युवाओं को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए हैं, जिनमें से एक लाख से अधिक सरकारी नौकरियां हैं।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो