sulabh swatchh bharat

गुरुवार, 16 अगस्त 2018

नया साल, कौन निहाल?

इसमें कोई शक नहीं है कि अतीत की कुछ सुखद यादें आपको भविष्य में भी उत्साह देती रहती हैं। गुजरे साल के बारे में भी कुछ ऐसा कहा जा सकता है। हिट फिल्मों के मामले में पिछला साल बहुत खराब रहा। डेढ़ सौ से ज्यादा हिंदी फिल्में इस दौरान आईं मगर सिर्फ गिनती की फिल्मों ने अच्छा व्यवसाय किया। इस साल कुछ ऐसी फिल्में आएंगी, जिनके साथ भी दर्शकों की सहज उम्मीदें जुड़ी हुई हैं। इस उम्मीद की बड़ी वजह है, इन फिल्मों के साथ जुड़े बड़े नाम

विगत साल के अंत में रिलीज होनेवाली फिल्म 'दंगल’ की सफलता का सही आकलन नए साल में ही हो पाएगा। इस फिल्म के रिलीज के साथ जो क्रेज देखा गया, उससे तो एक बात साफ  है कि यह आमिर की पिछली फिल्मों की तरह बिजनेस करनेवाली है। ट्रेड पंडित कोमल नाहटा के मुताबिक,'यदि कोई विघ्न-बाधा नहीं आई, तो इस फिल्म का वल्र्डवाइड बिजनेस 400 करोड़ के आंकड़े को पार कर सकता है। असल में पिछले कुछ सालों से ऐसा ही हो रहा है। साल दो साल में आमिर की एक फिल्म रिलीज होती है और कमाई को लेकर बिल्कुल निश्चिंत रहती है। बहरहाल, आमिर के फैंस के लिए एक अच्छी खबर यह है कि अगस्त में रिलीज होने वाली आमिर की होम प्रोडक्शन फिल्म 'सीक्रेट सुपरस्टार’ में वे एक म्यूजिशियन की भूमिका में नज़र आएंगे।

यह साल भी सलमान के नाम

उम्मीद है कि पिछले साल की तरह नया साल भी सबसे बड़े कमाऊ सुपरस्टार सलमान खान के नाम रहेगा। इस साल उनकी दो फिल्में रिलीज होंगी। जून में रिलीज होनेवाली फिल्म 'ट्यूबलाइट’ को उनके प्रिय निर्देशक कबीर खान ने डायरेक्ट किया है। इसमें चीन की हीरोइन जू जू के साथ उनकी जोड़ी बनाई गई है। क्रिसमस के मौके पर रिलीज होनेवाली दूसरी फिल्म है 'टाइगर जिंदा है’। यह 2012 सलमान की सुपर हिट फिल्म 'एक था टाइगर’ की सिक्वल है। पर इस बार इसे कबीर खान की बजाए सलमान की ही एक और सुपर हिट फिल्म 'सुल्तान’ के निर्देशक अली अब्बास जफर डायरेक्ट करेंगे। इसमें उनकी जोड़ी फिर कैटरीना कैफ  के साथ बनाई गई है। इसमें एक और हीरोइन की एंट्री होगी। ट्रेड पंडितों के मुताबिक इन दोनों ही फिल्मों के राइट्स जिस ऊंची कीमत में बिके हैं, उससे यह तो साफ  है कि सफलता की दृष्टि से यह साल भी सलमान के नाम रहेगा।

अक्षय के वारे-न्यारे

पिछले साल की तरह इस साल भी अभिनेता अक्षय कुमार की तीन फिल्में रिलीज होंगी। पिछले साल अक्की की तीनों फिल्में 'एयरलिफ्ट’, 'रुस्तम’ और 'हाउसफुल-3’ हिट रही। इस साल भी उनकी फिल्में 'जॉली एलएलबी-2’,'टॉयलेट-एक प्रेम कथा’, '2.0’ और 'क्रेक’ रिलीज होंगी। ट्रेड विश्लेषक आमोद मेहरा कहते हैं,' सिर्फ  अक्षय का स्टारडम नहीं,आप इन तीनों फिल्मों के बजट और पूरे सेटअप पर गौर करें, तो इस बात की पूरी उम्मीद है कि इनमें से कोई भी फिल्म घाटे का सौैदा नहीं बननेवाली हैं।

इसका पूरा श्रेय अक्षय को ही देना चाहिए। पिछले कुछ साल से वह फिल्मों के चयन को लेकर बेहद सजग हैं।

नीरज पांडे जैसे अत्यंत प्रतिभाशाली निर्देशक को उन्होंने  अपना प्रिय पात्र बना रखा है। नीरज की 15 अगस्त को रिलीज होनेवाली फिल्म 'क्रेक’ अक्षय की एक अहम फिल्म होगी।

इसी तरह से फरवरी में रिलीज होनेवाली 'जॉली एलएलबी-2’ और जून में आनेवाली 'टॉयलेट-एक प्रेम कथा’ का सब्जेक्ट एकदम अलग है। फिर अक्टूबर में आनेवाली '2.0’ भी बेहद खास है। रजनीकांत की मुख्य भूमिका वाली इस फिल्म में अक्षय विलेन का रोल कर रहे हैं। ज्यादातर ट्रेड पंडित मानते हैं कि इस साल भी अक्षय का एक बेहद सफल चेहरा नज़र आएगा।

रणवीर की निकल पड़ी

इधर दो-तीन साल से ऐसा हो रहा है कि अभिनेता रणवीर सिंह साल में दो से ज्यादा फिल्मों नज़र नहीं आ रहे हैं। पिछले साल उनकी सिर्फ  एक फिल्म 'बेफिक्रे’ रिलीज हुई। इस फिल्म का जो बजट था, उस हिसाब से 60 करोड़ की कमाई इस फिल्म के लिए काफी थी। नवंबर में प्रदर्शित होने वाली संजय लीला भंसाली की 'पद्मावती’ जरूर रणवीर के लिए एक बड़ा मोड़ बन सकती है। वैसे इसमें कोई शक नहीं है कि इसके बाद तेजी से दौड़ रहे रणवीर के स्टारडम को एक रफ्तार मिलेगी।

शाहरुख की वापसी मुश्किल

पिछले साल 'फैन’ और 'डियर जिंदगी’ में शाहरुख के स्टारडम को मात खानी पड़ी थी। ज्यादातर ट्रेडवाले मानते हैं कि अब शाहरुख की फिल्मों के लिए सौ करोड़ का आंकड़ा पार करना मुश्किल होगा। जनवरी में रिलीज होनेवाली उनकी फिल्म 'रईस’ के बारे में ऐसा ही कहा जा रहा है। कुछ ऐसा ही संदेह इम्तियाज अली की अगस्त में रिलीज होने वाली 'द रिंग’ के लिए भी व्यक्त किया जा रहा है। एक बात तो तय है कि किंग खान अपनी पुरानी जगह खो चुके हैं। उनका हाल काफी हद तक राजेश खन्ना के विफलता के दिनों की याद दिला देता है।

'पद्मावती’ के भरोसे दीपिका

नए साल में भी अभिनेत्री दीपिका पादुकोण अपने नंबर वन नायिका के खिताब को बनाए रखेंगी। दूसरी ओर हॉलीवुड में उनका दबदबा उनकी पहली रिलीज '3 एक्स’ के साथ साफ  हो जाएगा। मगर हिंदी फिल्मों में उनका मुकाम बदस्तूर कायम रहेगा। 'पद्मावती’ के लिए बीस करोड़ लेकर इस बात को उन्होंने साबित कर दिया है। इस साल 'पद्मावती’ ही उनका असली ट्रंप कार्ड है। जिसमें वह रानी पद्मावती का बेहद चुनौतीपूर्ण रोल कर रही हैं। यही नहीं, एक विज्ञापन के लिए दस करोड़ लेकर उन्होंने अपने स्टारडम को बदस्तूर बनाए रखा है।

सबसे आगे अनुष्का

'सुल्तान’ और 'ये दिल है मुश्किल’ जैसी दो बड़ी हिट ने अनुष्का को पिछले साल नायिकाओं की दौड़ में सबसे आगे कर दिया था। इस साल मार्च में होम प्रोडक्शन फिल्म 'फिलौरी’ और इम्तियाज अली की 'द रिंग’ के सहारे इस सफलता को स्थिर रखना पड़ेगा।

अलग-थलग-कंगना

पिछले साल कंगना रनौत की कोई फिल्म रिलीज नहीं हुई। इस साल फरवरी में विशाल भारद्वाज की 'रंगून’ और सितंबर में हंसल मेहता की 'सिमरन’ में वह दिखाई देंगी। ये दोनों ही ऐसे डायरेक्टर हैं जिनकी फिल्मों को लेकर दर्शकों में ज्यादा क्रेज कभी देखने को नहीं मिला है। पर एक बात तय है कि ये फिल्में एक्ट्रेस कंगना को फिर एक नया मुकाम देंगी। यानी कंगना फिर अलग-थलग खड़ी रहेंगी।

ब्रांड बन कर रह गई प्रियंका

हॉलीवुड फिल्मों में काम करके अभिनेत्री प्रियका चोपड़ा भले ही एक बड़ी ब्रांड बन चुकी हों, लेकिन हिंदी फिल्मों में उनकी स्थिति अब ढलान पर है। पिछले साल प्रकाश झा की 'जय गंगाजल’ के बाद उन्हें कोई नई फिल्म नहीं मिली। अब सूत्र बताते हैं कि जल्द ही वह अपने बैनर से एक हिंदी फिल्म शुरू करने वाली हैं, जिसमें उनकी मुख्य भूमिका होगी। वैसे ब्रैंड प्रियंका एड फिल्मों के जरिए खूब कमाई कर रही है और हॉलीवुड का एसाइनमेंट तो है ही।

कैट का क्रेज खत्म

पिछले साल की दो महा फ्लाप फिल्म 'फितूर’ और 'बार-बार देखो’ के बाद अभिनेत्री कैटरीना कैफ  ने बहुत कुछ खोया है। कई साल से रुक-रुक कर बन रही फिल्म 'जग्गा जासूस’ और दिसंबर में सलमान की 'टाइगर जिंदा है’ इस साल उनके लिए उम्मीद की एक किरण बन सकती है।

पीछे रह गए रणबीर कपूर

अंट-शंट फिल्में चुनकर अभिनेता रणबीर कपूर ने अपना बहुत नुकसान किया है। इस साल अप्रैल में रिलीज होनेवाली अनुराग बसु की 'जग्गा जासूस’ और अयन मुखर्जी की साल के अंत में रिलीज होनेवाली 'ड्रेगन’ के जरिए वह फिर अपनी मंजिल हासिल कर सकते हैं। वैसे, पिछले साल की हिट फिल्म 'ये दिल मुश्किल’ ने उनकी मुश्किलों को कुछ हद तक आसान बना दिया है। पर ज्यादा आलोचक मानतें है कि ऐसी फिल्में उनकी तमाम मुश्किलें आसान नहीं करेंगी।

अजय और रितिक का रुतबा

पिछले साल की बड़ी फ्लाप 'मोहेन जोदड़ो’ के बाद इस साल फरवरी में रिलीज होनेवाली फिल्म 'काबिल’ रितिक के लिए एक बड़ा दांव है। दूसरी ओर अजय देवगन सितंबर में रिलीज होनेवाली मिलन लुथेरिया की फिल्म 'बादशाहों’ में फिर दर्शकों के क्रेज बनेंगे। इसमें कोई शक नहीं है कि इन दोनों ही हीरो का अपना अलग रुतबा है, जिसके चलते दर्शक इनकी फिल्में देखना पसंद करते हैं। लेकिन आज के दौर के कई हीरो सिद्धार्थ मल्होत्रा, वरुण धवन आदि से यह उम्मीद करना बेमानी है। ऐसे में इस साल आमिर, दीपिका, सलमान,अक्षय कुमार, अनुष्का, कंगना रनौत,रणवीर आदि से ही उम्मीद कीजिए।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो