sulabh swatchh bharat

मंगलवार, 11 दिसंबर 2018

नोबेल पुरस्कार प्रदर्शनी का शुभारंभ किया प्रधानमंत्री ने

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोबेल पुरस्कार प्रदर्शनी का शुभांरभ किया। इस प्रदर्शनी का शुभारंभ करते हुए उन्होंने कहा, ‘विज्ञान और तकनीक का शुक्रिया करना चाहिए उसकी वजह मानव जाति फल फूल रही है। बड़ी संख्या में लोग मानव इतिहास में अतुलनीय गुणवत्तापूर्ण जीवन से बिता रहे हैं।’

वाइब्रेंट गुजरात ग्लोबल समिट’ का हिस्सा बने नौ नोबेल पुरस्कार विजेताओं की मौजूदगी में उन्होंने छात्रों से कहा, ‘भारत के सामने बहुतों को गरीबी से निकालने की चुनौती है। आप जल्द ही वैज्ञानिक होंगे और इस चुनौती को नजरअंदाज नहीं करेंगे।  भारतीय विश्वविद्यालयों के छात्र नोबेल विजेताओं से बात करेंगे जिसमें कि भारत में जन्मे और गुजरात में पढे वैज्ञानिक डॉं वेंकटरमण रामकृष्णन भी हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि इससे पहले दो तीन नोबेल विजेता भारत आए थे और सीमित तरीके से ही छात्रों और वैज्ञानिकों से संवाद कर पाए थे। मोदी ने कहा, ‘लेकिनआज गुजरात में नोबेल विजेताओं की मंडली से हमने इतिहास बना दिया है। मैं पूरे दिल से यहां नोबेल विजेताओं का स्वागत करता हूं। आप भारत के अनमोल दोस्त हैं। आप में से कुछ पहले कई बार आए हैंआप में से एक का जन्म यहां हुआ है । असल में वह वडोदरा में पले बढ़े।’ उन्होंने कहा, ‘मेरी सरकार का स्पष्ट नजरिया है कि हम अगले 15 साल में भारत को कहां देखना चाहते हैं। रणनीति और कार्य को अमल में लाने के लिए विज्ञान और तकनीक उस दृष्टिकोण में केंद्र बिंदु है। विज्ञान और तकनीक में हमारा दृष्टिकोण यह सुनिश्चित करना है कि अवसर सभी युवाओं के लिए उपलब्ध हो।’ मोदी ने कहा, ‘हमारे वैज्ञानिकों से देश के हमारे स्कूलों में पढ़ाए जाने वाले विज्ञान शिक्षा पर कार्यक्रम तैयार करने को कहा गया है। इससे प्रशिक्षित शिक्षक भी जुड़ेंगे।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो