sulabh swatchh bharat

शुक्रवार, 25 मई 2018

रोबोटिक्स का नन्हा निर्माता

जब छोटे से एक बच्चे ने अपनी मां को मेहनत से अपने घर का फर्श साफ करते देखा, तो वह ऐसा तरीका इजाद करने के बारे में सोचने लगा जिससे आसानी के साथ फर्श की सफाई की जा सके।

अब उसने ऐसा सफाई रोबोट बनाया है जो सही तरीके से फर्श की धूल साफ करता है और कहीं कोई गंदगी नहीं छोड़ता। केरल के कोच्चि में रहने वाले आठ वर्षीय सारंग सुमेश ने यह रोबोट तब बनाया जब वह मुश्किल से पांच वर्ष का था और स्कूल जाना शुरू ही किया था। प्रतिभा के आधार पर उसे 'राजीव फैलोशिप’ दिया गया। इसी वजह से उसे पिछले साल सिलिकन वैली जाने का अवसर मिला। सिलिकन वैली में उसे 'रोबोटिक्स का निर्माता’ का उपनाम दिया गया। सारंग सुमेश का सफाई रोबोट अहमदाबाद में 'मेकर फेस्ट’ के 2016 के संस्करण में आकर्षण का मुख्य केंद्र। 'मेकर फेयर’ युवा आविष्कारकों और स्टार्टअप्स के लिए अमेरिका आधारित सीरियल ऐंजल इन्वेस्टर, उद्यमी और भारत में आईटी स्टार्टअप की समर्थक आशा जडेजा मोटवानी ने 2013 में भारत में शुरू किया था। सुमेश की उपलब्धियों की सूची अविश्वसनीय है। वह चीन के शेन्जेना में फैब 12 स मेलन (फैबलैब, एमआईटी बोस्टन) में दुनिया भर के वैज्ञानिकों और निमार्ताओं में सबसे कम उम्र का वक्ता था। उसने कैलिफोर्निया में दुनिया के सबसे बड़े मेकर्स फेयर में सबसे कम उम्र के 'मेकर’ के रूप में भाग लिया। कोच्चि में वाइस स्कूल के तृतीय कक्षा के छात्र, सुमेश ने अब एक स्मार्ट सीट बेल्ट का विकास किया है, जो दुर्घटना की स्थितियों को भांप उसके अनुसार प्रतिक्रिया कर सकता है।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो