sulabh swatchh bharat

सोमवार, 17 दिसंबर 2018

किसानों में कृषि कौशल सुधारेगी केंद्र सरकार

नई दिल्ली। केन्द्र सरकार वर्ष 2022 तक 6.33 लाख किसानों को कृषि कौशल को सुधारने में मदद करेगा। केन्द्र ने किसानों को खेती से संबंधित जानकारियां और उनमें कृषि कौशल विकसित के लिए एक रणनीति तैयार की है। वर्ष 2016-17 में इसके लिए करीब 3.5 करोड़ रूपए का कोष अलग से रखा गया है।

 

खेती का कौशल विकसित करना सरकार की राष्ट्रीय दक्षता विकास नीति का हिस्सा है। इस नीति को वर्ष 2015 में शुरू किया गया था। कृषि और दक्षता विकास मंत्रालय मिलकर इस माह से किसानों को दक्षता का प्रशिक्षण प्रदान करेंगे।

कृषि मंत्री राधा मोहन सिंह ने कहा, ‘हमारा लक्ष्य किसानों की आय को दोगुना करना है। इसे हासिल करने के लिए किसानों को अपनी कृषि गतिविधियों में विविधीकरण करने की आवश्यकता है। हमने उन्हें जरूरी दक्षता प्रदान करने का फैसला किया है ताकि वे मत्स्य-पालन, मधुमक्खी-पालन, वर्मी कम्पोस्ट और अन्य सहायक गतिविधियों को अपना सकें।’

कृषि मंत्री ने कहा कि कृषि मंत्रालय ने 100 कृषि विकास केन्द्रों और आठ प्रशिक्षण संस्थानों के जरिए दक्षताओं को प्रदान करने के लिए वित्त वर्ष 2016-17 के लिए 3.52 करोड़ रूपए के बजट का प्रावधान किया है।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो