sulabh swatchh bharat

सोमवार, 20 मई 2019

शिक्षकों के लिए नियंत्रण प्रकोष्ठ

मध्यप्रदेश के शासकीय स्कूलों में शिक्षकों की उपस्थिति के लिए एक नियंत्रण प्रकोष्ठ बनाया गया है।

भोपाल: मध्यप्रदेश के शिक्षा विभाग ने प्रदेश के सभी एक लाख 18 हजार शासकीय स्कूलों  में शिक्षकों की विद्यालय में उपस्थिति को सुनिश्चित करने के लिए नियंत्रण प्रकोष्ठ बनाया है। प्रदेश के स्कूल शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह ने बुधवार को मुख्यमंत्री निवास पर आयोजित एक कार्यक्रम में कहा कि प्रदेश में शिक्षकों की विद्यालय में उपस्थिति को सुनिश्चित करने के लिए नियंत्रण प्रकोष्ठ बनाया गया है। इसका दूरभाष क्रमांक सभी 1.18 लाख शासकीय स्कूलों में अंकित रहेगा।

उन्होंने कहा कि स्कूल में उपस्थित नहीं होने वाले शिक्षक की जानकारी कोई भी व्यक्ति नियंत्रण प्रकोष्ठ को दे सकेगा। इसके लिए उसे परेशान नहींकिया जाएगा। इस मौके पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने ‘मुख्यमंत्री मेधावी छात्र प्रोत्साहन योजना’ की जानकारी देते हुए कहा कि 12वीं में 75 प्रतिशत से अधिक अंक पाने वाले विद्यार्थियों को इस योजना के तहत प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। इससे वह छात्र-छात्राएं अपनी आगे की पढ़ाई जारी रख सकेंगे।

चौहान ने कहा कि इस योजना का लाभ उन्हीं छात्रों को मिलेगा, जिनके परिजनों की सालाना आय छह लाख रूपए से कम होगी। ऐसे विद्यार्थियों का शासकीय, मेडिकल, इंजीनियरिंग, प्रबंधन, विधि और निजी क्षेत्र के चिन्हित इंजीनियरिंग, मेडिकल कॉलेज और अन्य शिक्षण संस्थान में प्रवेश होने पर उनकी फीस राज्य सरकार भरेगी।



Bringing smiles to every face hindi ad copy %281%29

ऑडियो